Monday, October 29, 2018

Dhanteras Puja Vidhi in Hindi

कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी को धनतेरस का त्यौहार मनाया जाता है। इस वर्ष धनतेरस का त्यौहार 05 नवंबर, 2018 को मनाया जाएगा। इस दिन लोग भगवान धन्वन्तरि की पूजा करते हैं और यमराज के लिए दीप देते हैं। आज के इस पोस्ट में हम आपके साथ धनतेरस की पूजन विधि (Dhanteras Puja Vidhi in Hindi) के बारे में बात करने वाले है और जानेंगे की किस तरह से धनतेरस के दिन आपको पूजा करना चाहिए।

Dhanteras Puja Vidhi in Hindi
Dhanteras Puja Vidhi in Hindi

>> Happy Dhanteras Images 2018 <<

Dhanteras Puja Muhurat

लक्ष्मी-कुबेर पूजा मुहूर्त (Dhanteras Puja Muhurat): शाम 06:05 से लेकर रात्रि 08:01
प्रदोष काल मुहूर्त: शाम 05:29 से लेकर रात्रि 08:07 

Dhanteras Puja Vidhi in Hindi

पुरे साल में धनतेरस एक मात्र ऐसा दिन होता है जब हम मृत्यु के देवता यमराज की पूजा करते है, मालूम हो की यह पूजा दिन में नहीं बल्कि रात में की जाती है। चौमुखी दीप में आटे की दीपक को जलाकर घर के मुख्य द्वार कर दाईं ओर रख दिया जाता है. इस दीया को जमदीवा, जम का दीया या यमराज का दीपक भी कहा जाता है।

धनतेरस मंत्र (Dhanteras Mantra Hindi) 

मृत्युना पाशदण्डाभ्यां कालेन च मया सह।
त्रयोदश्यां दीपदानात सूर्यज: प्रीयतामिति॥

धनतेरस के दिन यमराज को दीपदान के समय इस मंत्र का जाप जरूर करें। धनतेरस पूजा के इस मंत्र का अर्थ होता है: त्रयोदशी को दीपदान करने से मृत्यु, पाश, दण्ड, काल और लक्ष्मी के साथ सूर्यनन्दन यम प्रसन्न हों। इस मंत्र के द्वारा लक्ष्मी जी भी प्रसन्न होती हैं।

Dhanters Puja Vidhi Hindi Video



Share This
Previous Post
Next Post

A passionate blogger who failed many many times in this big blogging industry. Now I am learning Digital Marketing online with the help of Google Digital Unlocked.

0 comments: